ads

पेड़ों के नाम हिंदी में ▷Trees Name

पेड़ों के नाम हिंदी में ▷Trees Name
    पेड़ों के नाम हिंदी में ▷Trees Name

    पेड़ों के नाम हिंदी में ▷Trees Name : निम्नलिखित दुनिया भर से उल्लेखनीय पेड़ों की एक सूची है। यहां सूचीबद्ध पेड़ों को महत्वपूर्ण या विशिष्ट माना जाता है। सूची में दुनिया भर में स्थित वास्तविक पेड़ शामिल हैं।

    ट्री नाम लिस्ट Trees Name list

    1. नीम वृक्ष (Neem) – यह पेड़ अपने औषधीय गुणों के कारण फेमस है। इस पेड़ की पत्तियां हरे रंग की होती है। नीम एक छायादार वृक्ष है।

    2. बरगद पेड़ (Banyan Tree) – बरगद का पेड़ विशाल और फैला हुआ होता है। इसके पत्ते चौड़े होते है। इस पेड़ की शाखाओं से जड़े निकलकर जमीन में चली जाती है।

    3. पीपल का पेड़ (Ficus Tree) – पीपल का पेड़ हिन्दू मान्यताओं में बहुत पवित्र माना जाता है। इस पेड़ की पूजा की जाती है। पीपल के पत्ते चौड़े और बड़े होते है।

    4. बांस (Bamboo) – बांस के वृक्ष का तना लंबा होता है। वैसे यह पेड़ घास की श्रेणी में आता है। बांस का तना खोखला होता है।

    5. खजूर (Date Palm) – इस पेड़ का तना बहुत लंबा होता है। खजूर का पेड़ बहुत ऊंचा होता है। इस पर फल भी ऊंचाई पर लगते है। खजूर के पेड़ पर खजूर लगते है।

    6. देवदार वृक्ष (Fir) – देवदार के पेड़ अमूमन जंगलो में पाए जाते है। पर्वतीय क्षेत्र में ये अधिकांश मिलते है। इसकी लकड़ी का उपयोग फर्नीचर बनाने में करते है। यह एक शंकु के आकार का पेड़ है।

    7. चीड़ (Pine) – इस पेड़ का तना लंबा और सीधा होता है। पहाड़ी क्षेत्रों में चीड़ के पेड़ पाये जाते है।

    8. अशोक का पेड़ (Polyalthia) – यह पेड़ शंकुधारी होता है। तना मजबूत और पत्तियां तिकोनी हरी होती है। अशोक पेड़ को हिन्दू धर्म में पवित्र माना गया है।

    9. चंदन (Sandal) – चंदन के पेड़ की लकड़ी बहुत मंहंगी और मूल्यवान होती है। जंगलो में ये पेड़ मिलते है। चंदन की लकड़ी सुगन्धित होती है।

    10. बबूल पेड़ (Acacia) – इस पेड़ में भगवान विष्णु का निवास माना जाता है। बबूल का पेड़ औषधीय गुणों से सम्पन्न होता है। इस पेड़ को देशी कीकर भी कहते है। राजस्थान में मुख्यतः यह वृक्ष होता है।

    11. बलूत “ओक” (Oak) – ओक का वृक्ष करीब 300 सालों तक रहता है। इस पेड़ की लकड़ी से फर्नीचर बनाये जाते है।

    12. शीशम पेड़ (Shisham) – इस पेड़ के तने का उपयोग फर्नीचर बनाने में करते है।

    13. सेब का पेड़ (Apple Tree) – सेब के पेड़ पर फल लगते है। सेब का फल बहुत मीठा और स्वास्थवर्धक होता है।

    14. आम का पेड़ (Mango Tree) – आम के पेड़ पर आम लगते है। ये भिन्न भिन्न प्रजाति के होते है। आम के पेड़ की लकड़ी भी बहुउपयोगी होती है।

    15. नारियल का पेड़ (Coconut Tree) – नारियल के वृक्ष का तना लम्बा होता है। इस पेड़ पर नारियल ऊंचाई पर लगते है।

    16. सुपारी वृक्ष (Betel Nut Tree) – इस पेड़ से सुपारी प्राप्त की जाती है। सुपारी का पेड़ नारियल के पेड़ जैसा ही लंबा होता है। सुपारी का उपयोग आर्युवेद में भी किया जाता है।

    17. सागवान का पेड़ (Teak) – इस पेड़ के तने का उपयोग फर्नीचर बनाने में किया जाता है। इसकी लकड़ी उत्तम क्वालिटी की होती है। लकड़ी हल्की लेकिन मजबूत होती है।

    18. कटहल पेड़ (Jack Tree) – इस पेड़ पर कटहल लगते है जिनकी सब्जी बनाकर खाई जाती है।

    19. गुलमोहर (Delonix Regia) – गुलमोहर के पेड़ पर लाल रंग के फूल आते है जो बहुत मनमोहक होते है। गुलमोहर को स्वर्ग का फूल भी कहते है।

    20. ईमली का पेड़ (Tamarind) – ईमली के के पेड़ पर खट्टी मीठी इमली लगती है। इसका उपयोग चटनी बनाने में करते है।

    21. केर का पेड़ (Ker Tree) – यह पेड़ राजस्थान के मरुस्थल में पाया जाता है। इस पेड़ पर केर लगती है जिसका अचार बनाया जाता है।

    22. खेजड़ी पेड़ (Khejadi) – यह पेड़ राजस्थान में मिलता है। खेजड़ी एक कांटेदार पेड़ है। जलाने के लिए लकड़ी का इंतेजाम यह पेड़ ही करता है।

    23. आबनूस पेड़ (Ebony) – यह एक छायादार पेड़ है। इसकी लकड़ी काले रंग की होती है। इसके औषधीय गुणों के कारण आबनूस की छाल, पत्तियों का उपयोग किया जाता है।

    Post a Comment