ads

हौसला स्टेटस इन हिंदी ▷ Hausla Status in Hindi

हौसला स्टेटस इन हिंदी ▷ Hausla Status in Hindi
    हौसला स्टेटस इन हिंदी ▷ Hausla Status in Hindi

    हौसला स्टेटस इन हिंदी ▷ Hausla Status in Hindi : hosla shayari, हौसला बढ़ाने वाली शायरी, हौसला बुलंद शायरी

    हौसला स्टेटस इन हिंदी Hausla Status

    मजबूरियाँ होती है, यक़ीन जाता है
    बचपन का प्यार अक्सर तजुर्बे दे जाता है
    ******

    चाहता कौन है बेवफ़ायी करना उसने परिवार सम्भाला होगा 
    यही सोच कर समझाता हूँ ख़ुदको
    मजबूर होकर मुझे दिल से निकाला होगा
    ******

    ऐ उदास पल जरा धीरे धीरे चल 
    तू भी चला गया तो कैसे पाउँगा संभल

    खामोशियाँ कर दे बयाँ तो अलग बात है
    कुछ दर्द एसे भी है जो लफ्जों में उतारे नहीं जाते
    ******

    उसूल तो हमारे भी बहुत थे
    मगर वो ज़माने को नागवार गुज़रे
    ******

    लहू बेच बेच जिसने परिवार को पाला
    वो भूखा ही सो गया जब बच्चे कमाने वाले हो गये
    ******

    संसार में सबसे बड़ा आदमी वही कहलाता है , जिससे मिलने के बाद कोई इन्सान खुद को छोटा महसूस ना करे
    ******


    कल का दिन किसने देखा है आज का दिन भी खोए क्यों, जिस घड़ियों में हस सकते है उस घडियों में रोए क्यों
    ******

    इज्ज़त और तारीफ मांगी नही कमाई जाती है
    ******

    अपना मूल्य समझो और विश्वास करो की आप संसार के सबसे महत्वपूर्ण वयक्ति हो
    ******

    मोहब्बत दो दिलों में जब धडकती है तो 
    जमाने की आँखों में वो मोहब्बत खटकती है
    पर सच्ची मोहब्बत कंहा जमाने की परवाह करती है
    हर मुश्किल घड़ी में मोहब्बत तो दो दिलों को और करीब ला देती है
    ******

    मत सताओ हमे हम सताए हुए है
    अकेला रहने का ग़म उठाये हुए है
    खिलौना समज के ना खेलो हम से
    हम भी उसी खुदा के बनाये हुए है
    ******

    हमें न मोहब्बत मिली न प्यार मिला
    हम को जो भी मिला बेवफा यार मिला
    अपनी तो बन गई तमाशा ज़िन्दगी
    हर कोई अपने मकसद का तलबगार मिला
    ******

    वफा की कसम हम बेवाफा ना होंगे
    मर जायेंगे पर आपसे जुदा ना होंगे
    हम भी बनाएंगे अपनी दोस्ती का महल
    शर्म से झुक जाएेगा वो ताज महल 
    ******

    तन्हाइयों के शहर में एक घर बना लिया
    रुसवाइयों को अपना मुक़द्दर बना लिया
    देखा है यहाँ पत्थर को पूजते हैं लोग
    हमने भी इसलिए अपने दिल को पत्थर बना लिया
    ******

    *दिल की हालत बताई नहीं जाती*
    *हमसे उनकी चाहत छुपाई नहीं जाती*
    *बस एक याद बची है उनके चले जाने के बाद*
    *हमसे तो वो याद भी दिल से निकाली नहीं जाती
    ******

    कभी महक की तरह हम गुलों से उड़ते  हैं
    कभी धुएं की तरह पर्वतों से उड़ते हैं

    ये केचियाँ हमें उड़ने से खाक रोकेंगी
    की हम परों से नहीं हौसलों से उड़ते हैं
    *****

    जुनूँ है ज़हन में तो हौसले तलाश करो
    मिसाले-आबे-रवाँ रास्ते तलाश करो

    ये इज़्तराब रगों में बहुत ज़रूरी है
    उठो सफ़र के नए सिलसिले तलाश करो

    मिसाले-आबे-रवाँ=बहते हुए पानी कि तरह,   इज़्तराब=बेचैनी
    *****

    मन्ज़िल न दे चराग़ न दे हौसला तो दे
    तिनके का ही सही तू मगर आसरा तो दे
    *****

    ज़िन्दगी को न बना लें वो सज़ा मेरे बाद
    हौसला देना उन्हें मेरे ख़ुदा मेरे बाद



    Post a Comment